Breaking News
Home / पंजाब / हल्का फिरोजपुर लोकसभा: कांग्रेस के उम्मीदवार शेर सिंह घुबाया को लगा एक और बड़ा झटका

हल्का फिरोजपुर लोकसभा: कांग्रेस के उम्मीदवार शेर सिंह घुबाया को लगा एक और बड़ा झटका

लोकसभा हल्का फिरोजपुर से कांग्रेस के उम्मीदवार शेर सिंह घुबाया को एक और बड़ा झटका लगा है। कैप्टन अमरिंदर सिंह की फाजिल्का फेरी के दौरान गैंगस्टर जसविंदर सिंह रॉकी की बहन राजदीप कौर ने अकाली दल छोड़कर कांग्रेस ज्वाइन की थी। लेकिन अब ग्रुप के बाकी लोगों ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा है कि वह अकाली दल के साथ हैं उनका राजदीप कौर से कोई लेना देना नहीं है। इस ग्रुप में शामिल गैंगस्टर रॉकी के दाया बाया हाथ रहे हरप्रीत सिंह वह अनुराग चौधरी शामिल है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा कि उन्हें बिल्कुल भी शेर सिंह घुबाया का साथ पसंद नहीं है क्योंकि शेर सिंह घुबाया जो चरित्र से भी अच्छे आदमी नहीं रहे उनकी पिछले विधानसभा चुनावों के दौरान एक अश्लील वीडियो जारी हुई थी। जिसके चलते उन्होंने तभी शेर सिंह घुबाया का साथ छोड़ दिया था और आज वह अकाली दल के साथ चल रहे हैं। अश्लील फिल्म आने के चलते तब शेर सिंह घुबाया ने खुद उनसे कहा था कि मेरी और भी कोई फिल्म मार्केट में ना आ जाए। अब उन्होंने अकाली दल भाजपा के उम्मीदवार सुखबीर सिंह बादल का साथ देने की बात कही है।

हरप्रीत सिंह जो जसविंदर सिंह रॉकी के कत्ल के समय जसविंदर सिंह की गाड़ी चला रहा था। तब उसको भी गोलियों के कुछ छर्रे लगे थे। यह वही हरप्रीत सिंह है जिस ने कहा है कि जितना भी जसविंदर रॉकी का ग्रुप है, वह अकाली दल के साथ है और वह अकाली दल के उम्मीदवार को ही समर्थन देंगे, उनका कांग्रेस के उम्मीदवार से कोई लेना देना नहीं है और ना ही राजदीप कौर से कोई लेना देना है।

इससे शेर सिंह घुबाया की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं क्योंकि ज्यादातर युवा वर्ग अकाली दल के साथ नजर आ रहा है और शेर सिंह घुबाया ने हीं स्टेज पर कैप्टन अमरिंदर सिंह के सामने भी अपने कांग्रेसी वर्करों द्वारा उनका साथ ना देने की बात कही थी, लेकिन राजा साहिब ने भी कोई औपचारिक घोषणा ऐसी नहीं कि कि सभी कांग्रेसी लीडर एक जुट होकर शेर सिंह घुबाया का साथ दे।

अब देखना होगा कि आने वाली 19 मई को चुनाव वाले दिन ऊंट किस करवट बैठता है क्योंकि लोकसभा हल्का फिरोजपुर की यह सीट बहुत हॉट सीट मानी जा रही है, यहां पर पूरी कांग्रेस कि जहां इज्जत दांव पर लगी हुई है। तो वही अकाली दल की साख भी इसी सीट से ही साबित होगी कि  आगे चलकर अकाली दल कितना कामयाब हो पाएगा।

Check Also

PM MODI ने किया मंत्रालय का बंटवारा ,देखिए किस को क्या मंत्रालय मिला

अमित शाह को गृह मंत्रालय और राजनाथ सिंह को मिला रक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी Report …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *