Breaking News
Home / दुनिया / जाने समीकरण लोकसभा की || Samachar India

जाने समीकरण लोकसभा की || Samachar India

लोकसभा की जिन सीटों पर सबकी नजर है उनमें उत्तर प्रदेश की कैराना और महाराष्ट्र की पालघर सीट है. कैराना में बीजेपी की मृगांका सिंह का मुकाबला आरएलडी के तबस्सुम हसन से है. यहां बीजेपी को एकजुट विपक्ष से मुकाबला करना पड़ा है. कैराना में कुल 14 उम्मीदवारों में से लोकदल के प्रत्याशी कंवर हसन ने आखिरी वक्त में आरएलडी को समर्थन देते हुए चुनावी मैदान से हट गए थे. अब 13 प्रत्याशी हैं. मुख्य मुकाबला मृगांका सिंह और तबस्सुम के बीच है.
कैराना लोकसभा सीट पर सोमवार को हुए उपचुनाव में वोटिंग के दौरान कुछ वीवीपैट मशीनों में गड़बड़ी की शिकायत आई थी. जिसके बाद बुधवार को 73 बूथों पर दोबारा से मतदान कराए गए थे.
इन लोकसभा सीटों पर होने वाला है फैसला

यूपी की कैराना लोकसभा सीट- मुख्य मुकाबला बीजेपी की मृगांका सिंह और आरएलडी के तबस्सुम हसन के बीच है. बीजेपी सांसद हुकुम सिंह के निधन के चलते इस सीट पर चुनाव हुए थे. उनकी बेटी मृगांका सिंह उपचुनाव में बीजेपी की उम्मीदवार हैं. उनका सीधा मुकाबला राष्ट्रीय लोक दल की तबस्सुम हसन से है. कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने चुनावों में तबस्सुम का समर्थन किया था.
महाराष्ट्र की पालघर लोकसभा सीट- पालघर सीट बीजेपी सांसद चिंतामन वनगापर के निधन से खाली हुई थी. यहां बीजेपी की सहयोगी शिवसेना ही उससे टक्कर ले रही है. इस लड़ाई में बीजेपी को और बड़ा झटका तब लगा जब चिंतामन वनगा के परिवार ने उसका साथ छोड़कर शिवसेना का दामन थाम लिया. शिवसेना ने वनगा के बेटे श्रीनिवास को ही इस सीट से उम्मीदवार बनाकर मैदान में उतारा है. उधर बीजेपी ने भी कांग्रेस से टूटकर आए इलाके के कद्दावर आदिवासी नेता राजेंद्र गावित को टिकट देकर लड़ाई को और रोचक बना दिया. हालांकि इस चुनाव का एक तीसरा पक्ष बहुजन विकास आघाडी पार्टी भी है. वसई-विरार और पालघर में सक्रिय बहुजन विकास आघाडी ने भी इन उपचुनावों में बलिराम जाधव को मैदान में उतारा है. कांग्रेस-एनसीपी ने इस सीट पर दामू शिघडा को टिकट दिया है. शिवसेना और बहुजन विकास आघाडी दोनों ही पार्टियां विधानसभा में फड़नवीस सरकार का समर्थन कर रही हैं. 2014 के लोकसभा चुनावों में बीजेपी को करीब 53% वोट मिले थे जबकि दूसरे नंबर पर रही बीवीए को 29% वोटों से संतोष करना पड़ा था.


महाराष्ट्र की गोंदिया-भंडारा लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव के नतीजे आने वाले हैं. ये सीट बीजेपी के नाना पटोले के इस्तीफे के बाद खाली हुई है. पटोले ने पीएम मोदी से खुलकर नाराजगी जाहिर की थी और कांग्रेस में शामिल हो गए थे. ये सीट एनसीपी के पास रही है और पटोले के होने के बावजूद भी कांग्रेस ने सीट पर अपना दावा नहीं किया. यहां मुकाबला एनसीपी उम्मीदवार मधुकर कुकड़े और बीजेपी के हेमंत पटले के बीच है. भंडारा गोंदिया के 49 मतदान केन्द्रों पर दोबारा वोटिंग कराई गई है. 28 मई को हुए मतदान के वक़्त यहां की 19% वोटिंग मशीनें ख़राब पाई गईं थीं.
नगालैंड में लोकसभा की एक सीट के लिए हुए उपचुनाव के नतीजे आने हैं. फरवरी में नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोगेसिव पार्टी (एनडीपीपी) के नेता नेफ्यू रियो के लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने के कारण इस सीट पर उपचुनाव कराया गया. रियो अब प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं. नगालैंड में बीजेपी और एनडीपीपी की सहयोगी पीडीए ने इस सीट पर पूर्व मंत्री तोखेहो येपथेमी को उतारा है. कांग्रेस एनपीएफ उम्मीदवार सी अपोक जमीर को समर्थन कर रही है.
इन विधानसभा सीटों पर आएंगे नतीजे


पलुस कादेगांव (महाराष्ट्र), नूरपुर (यूपी), जोकीहाट (बिहार), गोमिया और सिल्ली (झारखंड), चेंगानूर (केरल), अंपति (मेघालय), शाहकोट (पंजाब) थराली (उत्तराखंड) और मेहेशतला (पश्चिम बंगाल) विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजे आएंगे.

Check Also

जानिए कैसे बेनामी लेनदेन पर हो सकती है 7 साल की जेल। || Samachar India

आयकार विभाग ने लोंगों को एक बार फिर ‘बेनामी’ सौदों से दूर रहने कि चेतावनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: